-->
देश में सिर्फ तीन दिन का कोयला बचा, ग्रिड फेल होने का संकट

देश में सिर्फ तीन दिन का कोयला बचा, ग्रिड फेल होने का संकट


 

देश के साथ साथ अब उत्तर प्रदेश में भी बिजली का संकट शुरू हो गया है, जिसपर आज CM Yogi ने PM मोदी को पत्र लिखा है, दरसल प्रदेश में अब बस कुछ दिनों कि बिजली Supply करने का ही Coal बचा है,  उत्तर प्रदेश के अहम Plants में Coal लगभग समाप्त है.

 
ये है स्थिति : हरदुआगंज , पारीछा , अनपरा , ओबरा प्लांट में Coal लगभग 50% से कम बचा है, अगर जल्द कोयले की क़िल्लत दूर नहीं हुई तो पूरे प्रदेश में दिक्कत बढ़ सकती है.
 
दूसरी तरफ़ गाँव में 18 घंटे के बजाए अब 11 घंटे ही बिजली आ रही है, साथ ही कुछ शहरों में भी अघोषित कटौती शुरू की गई है। 

इसलिए है संकट...
  • लॉकडाउन खुलने और अर्थव्यवस्था में सुधार होते ही देश में सभी क्षेत्रों में उत्पादन बढ़ा है। जिससे बिजली की मांग तेजी से बढ़ी है।
  • सितंबर में अधिक बारिश होने से खदानों में पानी भरने के कारण भी कोयले का उत्पादन कम हुआ है। मानसून से पहले कोयले का पर्याप्त स्टाक भी नहीं किया गया।
  • विशेषज्ञों का मानना है कि विदेश से आने वाले कोयले की कीमतों में अंतरराष्ट्रीय वृद्धि ने भी मुश्किलें बढ़ाई हैं। भारत में अमेरिका और इंडोनेशिया से कोयला आता है।

देश में सिर्फ तीन दिन का कोयला बचा, ग्रिड फेल होने का संकट 
नई दिल्ली। देश के बिजली संयंत्रों में सिर्फ तीन दिन का कोयला बचने से ग्रिड फेल होने संकट बढ़ गया है। ऊर्जा मंत्रालय से शनिवार को उच्चस्तरीय बैठक में पावर ग्रिड को बचाने की रणनीति बनाने के साथ कोयला मंत्रालय को भी कड़े कदम उठाने के सुझाव दिए हैं।

0 Response to "देश में सिर्फ तीन दिन का कोयला बचा, ग्रिड फेल होने का संकट"

Post a Comment

Between the Articles

advertising articles 2