-->
करोना को लेके लखनऊ वासियों के लिए राहत भरी खबर है

करोना को लेके लखनऊ वासियों के लिए राहत भरी खबर है





कोरोना की चपेट में आए प्रवासी लोगों पर हुए श्रोध में ये पता चला है कि लखनऊ में करोना का अभी सामुदायिक संक्रमण नहीं हुआ। यह खुलासा स्वास्थ्य विभाग की ओर से 25 से अधिक गांवों में कराई गई पूल टेस्टिंग में हुआ है ।

,दिल्ली, मुंबई, सहित विभिन्न प्रदेशों से लौटे प्रवासियों से कम्युनिटी में कोरोना वाइरस की फैलने की आशंका जताई गई थी। इसका पता लगाने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने

गाँव के इलाके जैसे -
माल,
मलिहाबाद,
सरोजिनीनगर,
मोहनलालगंज  और

शहरी इलाके जैसे - 
आलमबाग,
ऐशबाग,
महानगर

में पूल टेस्टिंग कराई थी ।

ग्रामीण इलाके में हर पांच गांवों के 10- 10 स्वस्थ लोगों के सैंपल लिए गए थे जिनमे से 250 से अधिक लोगों की जांच हो चुकी है और कहीं भी पूल टेस्टिंग के नतीजे पॉजिटिव नहीं मिले है।

सीएमओ डॉ. केपी त्रिपाठी ने बताया कि पूल टेस्टिंग में सभी सैंपल निगेटिव मिले हैं। इससे स्पष्ट है कि बाहरी  राज्यों से आने वाले भले ही संक्रमण की चपेट में आ गए हो , लेकिन उनसे गांव में वायरस नहीं फैला है । अगर परिणाम पॉजिटिव आते तो यह पता लगाया जाता कि संबंधित इलाके में वायरस का सामुहिक फैलाव कितना है। फिर उसी हिसाब से बचाव की रणनीति अपनाई जाती।

क्या होती है पूल टेस्टिंग [Pool Testing]?

पूल टेस्टिंग से संबंधित इलाके में वायरस के फैलाव के स्तर का पता लगाया जाता है। इसमें 5 या 10 लोगों के गले या नाक का सैंपल लिया जाता है। उसके दो हिस्से कर एक हिस्से को एक साथ मिला दिया जाता है। फिर इसकी जांच की जाती है। अगर रिपोर्ट निगेटिव है तो सभी को निगेटिव मान लिया जाता है। रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर सबका अलग-अलग टेस्ट कर संक्रमित का पता लगाया जाता है।


7 Responses to "करोना को लेके लखनऊ वासियों के लिए राहत भरी खबर है"

  1. Good news we shoul maintain this at all costs by following guidelines stictly.

    ReplyDelete
  2. Farji news na diya kare, kab karyie gaye thee testing.

    ReplyDelete
  3. Kahi nahi hua alambagh m koi b testing

    ReplyDelete
  4. Mai malihabaad se hu Yaha per koi testing Nahi hui jhooti khaber

    ReplyDelete
  5. No pool testing in Aishbagh .
    I am from aishbagh

    ReplyDelete
  6. I hv not heard of testing from aishbagh nor anyone staying there did reported such thing by u

    ReplyDelete
  7. There has been no such testings at Alambagh.. what is ur source of this fake news??

    ReplyDelete

Between the Articles

advertising articles 2